अगस्त में यूजर्स ने खूब किया UPI का इस्तेमाल, 10 अरब ट्रांजेक्शन का आंकड़ा पार होकर बना रिकॉर्ड

1 min read

[ad_1]

UPI Transaction in August 2023: भारत में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (Unified Payment Interface) यानी यूपीआई (UPI) का इस्तेमाल करने वाले लोगों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. आजकल लोग कैश का यूज करने के बजाय छोटे से छोटे पेमेंट के लिए यूपीआई का इस्तेमाल कर रहे हैं. इस कारण देश के यूपीआई ट्रांजैक्शन (UPI Transaction) में जबरदस्त इजाफा हो रहा है.

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने अगस्त के जारी किए गए आंकड़ों में इस बात का खुलासा किया है. NPCI के मुताबिक अगस्त 2023 में देशभर में 10 अरब से अधिक यूपीआई लेनदेन किए गए हैं. 30 अगस्त, 2023 तक कुल 10.24 अरब यूपीआई ट्रांजैक्शन के जरिए 15.18 अरब यानी 15,18,486 करोड़ रुपये (वैल्यू) में लेनदेन की गई है. वहीं जुलाई की बात करें तो यूपीआई के जरिए कुल 9.96 अरब रुपये की लेनदेन हुई थी. वहीं जून में यह आंकड़ा 9.33 अरब रुपये का था.

यूपीआई के इस्तेमाल में हुई 50 फीसदी की वृद्धि

NPCI द्वारा जारी किए गए आंकड़ों से यह पता चलता है कि अगस्त 2022 की तुलना में यूपीआई ट्रांजैक्शन में करीब 50 फीसदी तक की वृद्धि दर्ज की गई है. पिछले साल इस दौरान कुल 6.50 अरब ट्रांजैक्शन किए गए थे जो अब बढ़कर 10 अरब से अधिक तक पहुंच गई है. ध्यान देने वाली बात ये है कि अक्टूबर 2019 पहला महीना था जब देशभर में यूजर्स ने 10 अरब से ज्यादा बार यूपीआई का इस्तेमाल किया था. इसके बाद से यूपीआई यूजर्स की संख्या में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. 

इन ऐप्स का हो रहा सबसे ज्यादा इस्तेमाल

यूपीआई यूजर्स पेमेंट के लिए अलग-अलग ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं. यूजर बेस की बात की जाए तो स्वदेशी कंपनी फोन पे (PhonePe) ने इस मामले में बाकी सभी ऐप्स को पीछे छोड़ दिया है और जून , 2023 में हुई कुछ यूपीआई ट्रांजैक्शन में से इसकी हिस्सेदारी 47 फीसदी से ज्यादा की रही है. वहीं इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर गूगल पे (Google Pay) है जिसकी हिस्सेदारी 35 फीसदी है. वहीं 14 फीसदी हिस्सेदारी के साथ पेटीएम (Paytm) इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर आता है.

ये भी पढ़ें-

Milk Price Hike: फेस्टिव सीजन से पहले मिला महंगाई का झटका! आज से यहां 2 रुपये लीटर महंगा हुआ दूध

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author