अब तक 2100 मौतें, हजारों जख्मी, गाजा में आसमान से बरसते बम, बिजली गुल, अस्पताल में दवाएं नदारद

1 min read

[ad_1]

Israel-Palestine Conflict: इजरायल और फलस्तीन (Israel-Palestine War) के बीच छिड़ा संघर्ष और तेज होता जा रहा है. दोनों ही ओर से लगातार एक-दूसरे पर जवाबी कार्रवाई की जा रही है, जिसके चलते फिलहाल युद्ध रोकने के लिए किसी प्रकार की बातचीत या संधि होने के कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं. हमास (Hamas Attack) के हमलों के बाद से इजरायल की ओर से कड़ा जवाब दिया जा रहा है, जिसके बाद से 5 दिनों के भीतर दोनों पक्षों के करीब 2,100 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. अभी हालात और खराब हो रहे हैं. 

अंतरराष्ट्रीय रिपोर्ट्स की मानें तो युद्ध के 5वें दिन भी दोनों पक्षों की ओर से कड़े जवाबी हमले किए जा रहे हैं, जिनमें चरमपंथी संगठन हमास के लड़ाकों और इजरायली सैनिक भी बड़ी संख्या में मारे गए हैं. 

गाजा पट्टी पर इजरायल के हमले तेज  
एपी की रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमास के अभूतपूर्व हमले के जवाब में इजरायल ने गाजा पट्टी (Gaza Strip) पर अपने हमले और तेज कर दिए हैं. मंगलवार बीती रात और बुधवार को गाजा पट्टी के कई इलाकों में हवाई हमले भी किए गए हैं. 

गाजा में हमास के वर्चस्व को कुचलने में जुटा इजरायल  
एपी की रिपोर्ट की मानें तो दोनों पक्षों के कम से कम 2,100 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, इस लड़ाई में मरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी होने की भी आशंका जताई है. सप्ताहांत में हुए हमले के बारे में हमास का कहना है कि यह इजरायली कब्जे के तहत फलस्तीनियों के लिए बिगड़ती स्थितियों का बदला था. इजरायल गाजा में हमास के वर्चस्व को कुचलने को लेकर प्रयास में जुटा है. 

गाजा से सटी सीमा के पास 3 लाख इजरायली रिजर्व फोर्स तैनात
बीबीसी के हवाले से खबर आई है कि इजरायली सेना का कहना है कि उसने गाजा से सटी सीमा के पास करीब 300,000 रिजर्व फोर्स समेत बड़ी संख्या में सैनिकों की तैनाती कर दी है. हमास के हमलों से निपटने और जवाबी कार्रवाई तेज करने को इजरायल फुलप्रूफ रणनीति बनाए हुए है.  

इजराइल का लेबनानी क्षेत्र पर भी हमला 
बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक इजरायल में हमास के सप्ताहांत हमलों में मरने वालों की संख्या 1,200 तक पहुंच गई है, जबकि गाजा पर जवाबी इजरायली हवाई हमलों में 1,000 से अधिक लोग मारे गए हैं. वहीं, देश के दूसरे छोर पर इजराइल ने हिजबुल्लाह मिलिशिया के हमले के जवाब में लेबनानी क्षेत्र पर भी हमला किया है. 

गाजा में घायलों का आंकड़ा 5,188 के पार  
बीबीसी में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक गाजा में हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि इजरायल की ओर से हवाई हमले शुरू करने के बाद से अब तक गाजा पट्टी में 1,055 लोग मारे गए हैं और 5,184 घायल हुए हैं. वहीं, देखा जाए तो कई मीडिया रिपोटर्स में घायलों की संख्या को 5,188 बताया गया है.  

हमलों में 8 पत्रकारों की मौत की सूचना
मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि मारे गए लोगों में 260 बच्चे और 230 महिलाएं भी शामिल हैं. इसमें यह भी कहा गया कि इन हमलों में 6 चिकित्सा क​र्मियों की भी मौत हो गई है और 15 अन्य घायल हो गए है. इसके अलावा इन हमलों में 8 पत्रकारों की भी मौत हो गई है. 

इजरायल के 155 सैनिकों की भी हमलों में हुई मौत
इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, इजरायली सेना ने कहा, ‘शनिवार की घुसपैठ के बाद से इजरायल में 155 सैनिकों समेत 1,200 से अधिक लोग मारे जा चुके हैं. अकेले गाजा में 1,050 से अधिक लोगों के मारे जाने और 5,100 से अधिक लोगों के घायल होने की खबरें हैं.’  

UNHCR से जुड़े 7 लोगों की भी हुई मौत 
अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट के हवाले से मिली खबरों में इन हमलों में यूनाइटेड नेशंस कमीशनर फॉर रिफ्यूजी (UNHCR) से जुड़े 7 लोगों के मारे जाने की भी सूचना है. 

इजरायली की चेतावनी के बाद दुकानों पर सामान लेने दौड़ पड़े लोग 
हमास के हमले के बाद इजरायल की ओर से जवाबी कार्रवाई करने की चेतावनी देने के बाद गाजा की मार्केट में दुकानों से सामान गायब हो गया है. 

गाजा की ज्यादातर दुकानों में लोगों को नहीं मिल रहा सामान
दरअसल, इजरायली की शनिवार को हमले के बाद दी गई चेतावनी के बाद लोग जरूरी सामान खरीदनें के लिए दुकानों की तरफ दौड़ पड़े. इसके चलते ज्यादातर दुकानों में लोगों को सामान नहीं मिल रहा है और वो खाली पड़ी हैं.  

दोनों पक्षों में छिड़ी जंग के बाद लाखों लोगों का पलायन
यूनाइटेड नेशंस की रिपोर्ट के मुताबिक दोनों पक्षों में छिड़ी जंग का खामियाजा गााजा की आम जनता को भी उठाना पड़ रहा है. अब तक करीब 2 लाख 60 हजार नागरिक पलयान को मजबूर हो गए हैं. अब यह सभी सुरक्षित ठिकानों की तलाश में अपने घरों को छोड़ चुके हैं. 

गाजा के सबसे बड़े अस्पताल में अब तक 800 लोगों की मौत
हमास के हमले के बाद गाजा में इजरायल की बड़ी कार्रवाई से अब आम लोगों भी इससे परेशानी और खतरों का सामना करना पड़ रहा है. गाजा के सबसे बड़े अस्पताल से बहुत ही हैरान करने वाली खबरें सामने आ रही हैं. अकेले इस अस्पताल में 850 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, 4000 से ज्यादा घायल लोग अस्पताल में इलाज के लिए पहुंचे हैं. 

इजरायल ने गाजा को सप्लाई होने वाली बिजली बंद की 
गाजा में हमास के वर्चस्व को खत्म करने और उसकी कमर तोड़ने के लिए इजरायल की ओर से एक और बड़ी कार्रवाई की गई है. इजरायल की तरफ से गाजा को सप्लाई होने वाली बिजली को बंद कर दिया गया है जिसके बाद से सभी अस्पतालों में घायलों के इलाज और स्वास्थ्य सुविधाएं प्रभावित हो रही हैं. इसके बाद से अभी अस्पताल जनरेटर से काम चला रहे हैं और अब सिर्फ चंद घंटे की बिजली बैकअप बचा है.

अस्पतालों के कई विभाग भी बंद, दवाएं भी खत्म  
बिजली सुविधा ठप्प होने के बाद अस्पतालों के कई डिपार्टमेंट्स को बंद करना पड़ा है. अस्पताल के अधिकारियों की ओर से दावा किया गया है कि इजरायली हमले में एंबुलेंस को भी हमले का निशाना बनाया गया है. वहीं, गाजा में साफ पानी की सप्लाई भी प्रभावित है. इतना ही नहीं अब अस्पतालों में दवाएं भी खत्म हो गईं हैं.  

हमास ने दिखायी थी भयावहता 
इस बीच देखा जाए तो हमास ने शनिवार को 5000 रॉकेट दाग कर इजरायल पर बड़ा हमला कर भयावहता को दर्शाया था और कई लोगों को बंधक भी बनाया. इसके बाद इजरायल ने हमास पर बड़ा हमला किया जिससे अब हालात बेहद खराब होते जा रहे हैं. इजरायल के विदेश मंत्री ने भी निर्दोष लोगों पर किए गए इस हमले को माफी के काबिल नहीं बताया था.      

यह भी पढ़ें: Israel-Hamas War: जंग के बीच इजरायल और फलस्तीन में रह रहे भारतीयों के लिए सरकार ने उठाए एहतियाती कदम, दी ये सलाह

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author