अशोक गहलोत ने पीएम मोदी पर लगाया अहंकारी होने का आरोप, बोले- मैं ऐसा कभी नहीं कह सकता जैसा…

1 min read

[ad_1]

Ashok Gehlot On PM Modi: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार (20 अगस्त) को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तीखा हमला बोला. उन्होंने पीएम मोदी पर उनकी उस टिप्पणी को लेकर अहंकारी होने का आरोप लगाया, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह अगले स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से राष्ट्र को संबोधित करने के लिए फिर लौटेंगे.

अशोक गहलोत ने ये भी कहा कि लोग इस साल के अंत में होने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के ‘मिशन 156’ को सफल बनाएंगे. मिशन 156 राज्य की कुल 200 विधानसभा सीटों में से 156 सीटें जीतने के पार्टी के लक्ष्य को संदर्भित करता है. मुख्यमंत्री गहलोत ने जयपुर में कांग्रेस मुख्यालय में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी. 

अशोक गहलोत का पीएम मोदी पर निशाना

इसके बाद उन्होंने पीएम मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा, “हमारे पास उनके (प्रधानमंत्री मोदी) जैसा दंभ और अहंकार नहीं है जो कहे कि अगली बार मैं 15 अगस्त को फिर से लाल किले पर राष्ट्र को संबोधित करूंगा. मैं यह नहीं कह सकता. केवल वही यह कह सकते हैं. हमें कोई अहंकार नहीं है. हम अपना काम कर रहे हैं.” 

बीजेपी पर लगाया ये आरोप

नेहरू स्मारक संग्रहालय एवं पुस्तकालय का नाम बदलकर प्रधानमंत्री संग्रहालय एवं पुस्तकालय सोसाइटी (पीएमएमएल) करने पर सीएम गहलोत ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी इस देश के लिए इतिहास रचने वालों का नाम मिटाने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) या भारतीय जनता पार्टी के दबाव में ऐसा कर रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र में सत्तारूढ़ दल उन लोगों को भुलाना चाहता है, जिन्होंने आजादी से पहले अपने प्राणों की आहुति दी और जेलों में रहे. 

राजस्थान में वापसी का किया दावा

‘मिशन 156’ से जुड़े सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा, “मैं दावा कर सकता हूं कि लोगों ने मिशन के प्रति अपना मन बना लिया है और उसकी ओर बढ़ रहे हैं. जनता सर्वोच्च है.” उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी पिछले कुछ महीनों में छह बार राजस्थान का दौरा कर चुके हैं, लेकिन इससे कोई फायदा मिलने वाला नहीं है.

प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, “आप चाहे 15-20 बार राजस्थान आएं या रोजाना आएं-जाएं, लोगों ने दोबारा कांग्रेस की सरकार बनाने का मन बना लिया है.” उन्होंने आरोप लगाया कि व्यापारियों और उद्योगपतियों में डर का माहौल है लेकिन वे बोलने से डरते हैं. सीएम गहलोत ने दावा किया, “उन्हें डर के चलते पैसा दान करना पड़ रहा है और ये चुनावी बांड देश में एक बड़ा घोटाला है.”

ये भी पढ़ें- 

Chandrayaan-3 के चांद पर उतरने का बेसब्री से इंतजार कर रहे ISRO के वैज्ञानिक, बोले- लैंडिंग के बाद मिलेगा असली फल

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author