इस शहर में बना भारत का पहला 3D Printed पोस्ट ऑफिस, लागत आई इतनी

1 min read

[ad_1]

India’s First 3D Printed Post Office: अभी तक भारत का पानी में तैरता हुआ डाकघर फेमस था लेकिन अब एक दूसा पोस्ट ऑफिस लाइमलाइट हासिल कर रहा है. दरअसल, भारत में पहला 3D प्रिंटेड पोस्ट ऑफिस बनकर आम जनता के लिए खुल चुका है. इसका उद्घाटन केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने किया. उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए डाकघर निर्माण का एक क्लिप भी शेयर किया है. ये पोस्ट ऑफिस कर्नाटक के बेंगलुरु के कैम्ब्रिज लेआउट क्षेत्र में खोला गया है. इससे भी अच्छी बात ये है कि ये पोस्ट ऑफिस डेडलाइन से पहले बनकर तैयार हो गया.

डाकघर के निर्माण के लिए 45 दिन का समय तय किया गया था लेकिन ये 43 दिन में बनकर तैयार हो गया. इसे लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास ने मिलकर तैयार किया है.

कैसे बनाया गया ये डाकघर?

दरअसल, इस डाकघर को एक मशीन के जरिए बनाया गया है जिसमें 3डी कंक्रीट प्रिंटिंग का इस्तेमाल किया जाता है. इसमें एक स्वचालित रोबोटिक प्रिंटर का उपयोग किया जाता है जो फीडेड डिजाइन के अनुरूप कंक्रीट की परत दर परत जमा करता है. इसकी मजबूती के लिए इसमें विशेष प्रकार का कंक्रीट यूज किया गया है ताकि एक लेयर से दूसरी लेयर एकदम जुड़ी रहे. इस पोस्ट ऑफिस को बनाने में कुल खर्च करीब 23 लाख रुपये आया है जो पारंपरिक तरीकों की तुलना में 30-40 प्रतिशत कम है.

आईआईटी मद्रास के प्रोफेसर मनु संथानम ने इस इमारत की 3डी प्रिंटिंग के लिए एलएंडटी को तकनीकी सहायता प्रदान की थी. उन्होंने बताया कि इस डाकघर में कोई वर्टीकल जोड़ नहीं है. यानि एक तरीके से कोई कॉलम नहीं है. प्रोफेसर ने बताया कि इमारत के निर्माण में इस्तेमाल की गई 3डी प्रिंटिंग तकनीक डेनमार्क से आयात की गई थी और इसका सबसे बड़ा फायदा ये हुआ कि इसमें घुमावदार डिजाइन को आसानी से शामिल किया जा सका. 

यह भी पढ़ें:

iQOO Z7 Pro 5G एक पेंसिल से भी होगा पतला, लॉन्च से पहले 3 फीचर्स हुए कन्फर्म



[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author