‘कोई गीता और कुरान दोनों…?’, ‘गदर 2’ को एंटी मुस्लिम कहे जाने पर अनिल शर्मा ने दिया ऐसा बयान

1 min read

[ad_1]

Anil Sharma On Gadar 2: सनी देओल की फिल्म ‘गदर 2’ बॉक्स ऑफिस पर शानदार रही. फिल्म सुपरहिट रही और इसने बॉक्स ऑफिस पर 500 करोड़ से ज्यादा का कलेक्शन भी कर लिया है. वहीं इस बीच फिल्म पर ये आरोप भी लगाए गए कि ‘गदर 2’ एंटी मुस्लिम और एंटी पाकिस्तान है. इस मामले को लेकर अब डायरेक्टर अनिल शर्मा ने चुप्पी तोड़ी है.

ईटाइम्स से बात करते हुए अनिल शर्मा ने कहा कि ‘गदर 2’ एकता की लैंग्वेज बोलती है. उन्होंने कहा, ‘कहां है मुस्लिम विरोधी? मुझे लगता है कि इन लोगों ने फिल्म देखे बिना ही बोला होगा. प्लीज उन्हें इसे दोबारा देखने के लिए कहें, फिल्म एंटी मुस्लिम या एंटी पाकिस्तान नहीं है. शायद रिव्यूवर्स ने फिल्म के बारे में पहले से ही धारणा बना ली थी.’

‘कोई गीता और कुरान दोनों को क्यों…’
अनिल शर्मा ने बताया कि ‘गदर 2’ एक मानवीय फिल्म है. उन्होंने कहा, ‘हम कह रहे हैं कि कोई गीता और कुरान दोनों को क्यों नहीं मान सकता? हमने एकता की भाषा बोली है. हमने मौसी जैसा अच्छा किरदार दिखाया है. यहां तक ​​कि एक्ट्रेस (सिमरत कौर) के परिवार को भी इतना अच्छा दिखाया गया है. हम किसी भी धर्म के खिलाफ नहीं हैं, मुसलमान हमारे सबसे बड़ी ऑडियंस हैं और वे हमें बहुत प्यारे हैं.’

जीते और मुस्कान की जोड़ी ने जीता दिल!
बता दें कि ‘गदर 2’ साल 2001 में आई फिल्म ‘गदर: एक प्रेम कथा’ का सीक्वल है. सनी देओल और अमीषा पटेल ने फिल्म में अपने तारा सिंह और सकीना के किरदार से दर्शकों का मन मोह लिया था. वहीं अब ‘गदर 2’ में जीते और मुस्कान की जोड़ी भी फैंस को खूब पसंद आई और दर्शकों ने फिल्म पर अपना भरपूर प्यार बरसाया.

ये भी पढ़ें: Parineeti Chopra से डरते हैं राघव चड्ढा? शादी से पहले बोले- ‘घर जाऊंगा तो मार खानी पड़ेगी…’

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author