क्या 8 से 10 तारीख के बीच दिल्ली में अलग तरह के होंगे ट्रैफिक नियम, दिल्ली पुलिस ने दिया जवाब

1 min read

[ad_1]

<p>भारत की राजधानी दिल्ली में जी-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन होने वाला है. इस आयोजन में दुनिया भर के बड़े देशों के लीडर शामिल होंगे. यही वजह है कि पूरी दिल्ली को 8 से 10 तारीख तक छावनी में तब्दील कर दिया गया है. इस दौरान पूरे दिल्ली में आने जाने को लेकर कई तरह के नियम बनाए गए हैं. ताकि इससे सिक्योरिटी भी बनी रहे और आम दिल्ली वासियों को कोई खास तकलीफ भी ना हो. चलिए आपको बताते हैं कि ट्रैफिक को लेकर दिल्ली पुलिस का क्या कहना है.</p>
<h3>क्या कहा दिल्ली पुलिस ने?</h3>
<p>जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान ट्रैफिक नियमों को लेकर दिल्ली पुलिस ने बताया कि यातायात को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने के लिए G-20 शिखर सम्मेलन के दौरान उन्नत यातायात नियंत्रण उपायों और प्रौद्योगिकियों का प्रयोग किया जा सकता है. इनमें स्मार्ट ट्रैफिक सिग्नल, मोबाइल ऐप और ट्रैफिक सर्विलांस सिस्टम के माध्यम से रियल-टाइम ट्रैफिक अपडेट भी शामिल हो सकते हैं. ऐसा करने से लोगों की आवाजाही में सुचारू प्रवाह सुनिश्चित किया जा सकेगा और भीड़ को भी कम किया जा सकेगा. वहीं आप सटीक वैकल्पिक मार्गों के लिए Mapples- MapmyIndia App डाउनलोड कर सकते हैं. इससे आपको यातायात नियमनों से बचते हुए वैकल्पिक मार्ग के सुझाव मिल जाएंगे.</p>
<h3>कैसे शुरू हुआ था जी-20 शिखर सम्मेलन</h3>
<p>आपको बता दें, जी-20 शिखर सम्मेलन को दुनिया के ताकतवर देशों के ग्रुप जी-7 का विस्तार माना जाता है. दरअसल, जब ये बना था तब इसमें, अमेरिका, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और कनाडा जैसे देश शामिल हैं. वहीं साल 1999 में ही पहली बार बर्लिन में जी-20 को लेकर पहली बैठक हुई और आगे जाकर इसी तमाम बड़ी अर्थव्यवस्थाओं ने मिलकर जी-20 ग्रुप बनाया. जी-20 में शामिल कुल देश दुनिया की कुल 85 फीसदी जीडीपी पर अपना हक रखते हैं.</p>
<p><strong>ये भी पढ़ें: <a href="https://www.abplive.com/gk/g-20-started-by-these-g-7-countries-of-world-know-where-first-meeting-was-held-all-you-need-to-know-2485418">जी-20 नहीं… ये है दुनिया का सबसे ताकतवर संगठन, जानें कौन से शक्तिशाली देश हैं शामिल</a></strong></p>

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author