ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत 111वें स्थान पर फिसला; पाकिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल से भी है पीछे

1 min read

[ad_1]

Global Hunger Index 2023: ग्लोबल हंगर इंडेक्स या वैश्विक भूख सूचकांक 2023 में भारत की स्थिति और खराब हो गई है. 125 देशों की ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत 111वें स्थान पर आ गया है. इतना ही भारत में सबसे ज्यादा Child Wasting Rate या बाल कुपोषण की स्थिति भी देखी जा रही है और ये 18.7 फीसदी है. भारत की स्थिति साल 2022 से और ज्यादा खराब हो गई है और पिछले साल इस सूचकांक में भारत 107वें स्थान पर था. 

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत का स्कोर बेहद खराब

आज जारी हुए इस ग्लोबल हंगर इंडेक्स में भारत का स्कोर 28.7 फीसदी है जो कि इसे ऐसी कैटेगरी में लाता है जहां भूख और भुखमरी की स्थिति बेहद गंभीर है. ग्लोबल हंगर इंडेक्स (GHI) ग्लोबल, रीजनल और राष्ट्रीय स्तर पर भूख को व्यापक रूप से मापने और ट्रैक करने का एक टूल है.

पाकिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका और नेपाल भी भारत से आगे

ग्लोबल हंगर इंडेक्स के मुताबिक भारत के अन्य पड़ोसी देशों को देखें तो पाकिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका और नेपाल भी इससे बेहतर स्थिति में हैं. वैश्विक भूख सूचकांक 2023 में पाकिस्तान 102वें स्थान पर, बांग्लादेश 81वें स्थान पर, नेपाल 69वें स्थान पर और श्रीलंका 60वें स्थान पर है.

पिछले साल केंद्र सरकार ने खारिज किया था ग्लोबल हंगर इंडेक्स को

केंद्र सरकार के महिला और बाल विकास मंत्रालय ने इस ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट को पिछले साल और उससे पिछले साल यानी लगातार 2 साल इसे सिरे से नकार दिया था. मंत्रालय ने कहा था कि वैश्विक भूख का हिसाब लगाने के लिए केवल बच्चों पर केंद्रित माप (मैट्रिक्स) का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए. मंत्रालय ने इसे भूख मापने का गलत तरीका बताया था. जीएचआई 2022 को लेकर मंत्रालय की तरफ ये भी बोला गया था कि इसमें भूख का हिसाब लगाने के जिन 4 तरीकों का इस्तेमाल किया गया है, उसमें से 3 केवल बच्चों की सेहत पर आधारित है.

ये भी पढ़ें

RBI Action: रिजर्व बैंक ने दिया पेटीएम पेमेंट्स बैंक को झटका, लगाया 5.39 करोड़ रुपये का जुर्माना- जानें क्या है वजह

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author