‘तुरंत हटाने से खतरे में पड़ जाएगी मरीजों की जिंदगी’, इजरायल की चेतावनी पर बोले WHO चीफ

1 min read

[ad_1]

Israel Hamas War: इजरायल पर हमास के आतंकी हमले के बाद से ही उसने गाजा पट्टी पर बड़े पैमाने पर सैन्य कार्रवाई कर दी. इजरायल की सेना ने उत्तरी गाजा में रहने वाले नागरिकों और अस्पताल को जगह खाली करने की चेतावनी जारी की. उन्होंने कहा, आप इस जगह को खाली कर दीजिए. इस पर प्रतिक्रया देते हुए WHO के चीफ ने कहा, ‘ऐसा करना संभव नहीं होगा क्योंकि अस्पताल में बहुत सारे ऐसे घायल हैं जिनको किसी भी तरह से हटाना उनकी जान लेने जैसा होगा.’

गाजा में काम कर रहे यूएन के अधिकारियों का कहना है कि उत्तरी गाजा में करीब 11 लाख लोग रहते हैं इनको 24 घंटे में वहां से निकालना मुमकिन नहीं होगा. साथ ही उन्होंने कहा, अस्पताल में जो लोग भर्ती हैं वह बहुत ही गंभीर हालत में है. ऐसे में इन लोगों को यहां से निकालने का मतलब गंभीर रूप से घायलों की जान लेना होगा. 

चेतावनी के बीच दक्षिणी गाजा की तरफ बढ़े लोग
इजरायल की सेना की चेतावनी के बीच उत्तरी गाजा में रहने वाले लोगों ने दक्षिणी गाजा की तरफ पलायन करना शुरू कर दिया है. यूएन ने बताया कि इजरायल की चेतावनी के बीच लगभग 4 लाख लोग दक्षिणी गाजा की तरफ पलायन कर गए हैं. इजरायल की सेना उत्तरी गाजा में टैकों के जरिए प्रवेश कर चुकी है ऐसा माना जा रहा है कि किसी भी वक्त वह यहां पर हमले करना शुरू कर देंगे. 

यूएस-यूरोप में इजरायल युद्ध पर मार्च
मध्य पूर्व में भले ही इजरायल और हमास बंदूक और बम से लड़ाई लड़ रहे हों लेकिन अमेरिका और यूरोप के अलग-अलग देशों में रहने वाली यहुदी और फलस्तीन समर्थक एक लड़ाई इन जमीनों पर भी लड़ रहे हैं. अकेले अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में ही फलस्तीन के समर्थन में आंदोलन किया गया तो वहीं इजरायल में मारे गए लोगों के समर्थन में वहां की यहुदी और क्रिशचिएन कम्यूनिटी ने आंदोलन किया.

ये भी पढ़ें: Israel Hamas War Live: इजरायल के गाजा को पूरी तरह से खाली करने के आदेश पर UN ने जताई आपत्ति, मरने वालों की संख्या 3 हजार के पार, जानें अपडेट

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author