तो इस वजह से संजय दत्त को ‘चोली के पीछे क्या है’ गाने में पहनना पड़ा था घाघरा-चोली, एक्टर ने कि

1 min read

[ad_1]

Khal Nayak 30 years : साल 1993 में रिलीज हुई सुभाष घई की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘खलनायक’ को पूरे 30 साल हो गए हैं. फिल्म में खलनायक बने संजय दत्त के किरदार को खूब पसंद किया गया था. इस फिल्म से संजय दत्त को इंडस्ट्री में एक अलग पहचान मिली थी. वहीं माधुरी दीक्षित और जैकी श्रॉफ ने भी फिल्म में बेहतरीन काम किया था. फिल्म के सभी किरदार को जमकर सराहना मिली थी. वहीं फिल्म का गाना ‘चोली के पीछे क्या है’ ने भी खूब पॉपुलैरिटी पाई. फिल्म का यह आईकॉनिक गाना आज भी लोगों के जहन में बसा हुआ है. 

वहीं सालों बाद अब फिल्म के हीरो संजय दत्त ने इस गाने को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है. दरअसल, हाल ही में फिल्म की पूरी टीम ने खलनायक के 30 साल पूरे होने पर जश्न मनाया है. इस इवेंट के दौरान संजू बाबा ने खुलासा किया कि उन्हें फिल्म के डायरेक्टर सुभाष घई ने इस आईकॉनिक सॉन्ग के लिए घाघरा-चोली पहनने को कहा था. 

इस वजह से संजय दत्त ने पहना था घाघरा
संजय दत्त ने कहा ‘मैं सेट पर आया तो मैंने वही बंदूक पहन रखी थी. फिर सुभाष घई आएं और उन्होंने कहा कि इसको घाघरा-चोली पहनाओ. मैं हैरान रह गया. मैंने उनको बोला सर आप क्या कर रहे हो. उन्होंने कहा कि तू जा घाघरा-चोली पहन कर आजा. मैंने बोला मैं क्यों पहनूं. उन्होंनें कहा क्योंकि तू चोली के पीछे रहेगा.’

गाने को लेकर हुआ था विवाद
बता दें कि इस गाने को लेकर जमकर विवाद भी हुआ था. लोग इस गाने को अश्लील बता रहे थे. बात इतनी बढ़ गई थी कि दूरदर्शन और विविध भारती ने इस गाने पर बैन भी लगा दिया था. गाने में माधुरी दीक्षित और नीना गुप्ता ने कमाल का डांस किया था.

ये भी पढ़ें: Teacher’s Day 2023: जब इन हसीनाओं ने बड़े पर्दे पर टीचर बनकर बिखेरा हुस्न का जादू, शाहरुख खान के भी उड़ गए थे होश

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author