भारत में ‘सुरक्षा कवच’ के भीतर होंगे बाइडेन, जानें कैसी होगी अमेरिकी राष्ट्रपति की सिक्योरिटी

1 min read

[ad_1]

G20 Summit India: दिल्ली जी20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी के लिए पूरी तरह से तैयार हो चुकी है. अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन भी जी20 में हिस्सा लेने के लिए भारत आ रहे हैं. बाइडेन की सुरक्षा के लिए खास इंतजाम किए गए हैं. वो दिल्ली के आईटीसी मौर्य होटल में रुकने वाले हैं. यही वजह है कि होटल में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. एक तरह से होटल को ‘सुरक्षा कवच’ में तब्दील किया जा रहा है. 

भारत दौरे पर आ रहे अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन अपने खास विमान एयरफोर्स वन से यहां पहुंच रहे हैं. उनके साथ अमेरिकी खुफिया विभाग के सुरक्षाकर्मी और गाड़ियों का पूरा काफिला भी भारत पहुंच रहा है. 

कैसी है होटल की सिक्योरिटी?

स्टेट्समैन की रिपोर्ट के मुताबिक, आईटीसी मौर्य होटल के हर फ्लोर पर सीक्रेट सर्विस कमांडो तैनात किए जा रहे हैं. बाइडेन को उनके 14वें फ्लोर पर मौजूद कमरे तक ले जाने के लिए एक खास लिफ्ट लगाई जाएगी. होटल के 400 कमरों को बाइडेन और उनकी टीम के लिए बुक किया गया है. सुरक्षा तैयारियों के मद्देनजर सरदार पटेल मार्ग और होटल के आसपास रिहर्सल की गई. सुरक्षा में किसी तरह की चूक न हो, इसका पूरा ख्याल रखा गया है. 

एनएसजी कमांडो, सीआरपीएफ कर्मी और दिल्ली पुलिस के जवानों ने मिलकर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया है. आईटीसी मौर्य होटल के बाहर गार्डन एरिया में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. डॉग स्क्वाड और निगरानी के लिए अलग-अलग उपकरण लगाए गए हैं. सीआरपीएफ के जवान यहां देखरेख के लिए लगाए गए हैं. सुरक्षाकर्मी सुरक्षा के लिहाज से ‘एक्सप्लोसिव वेपर डिटेक्शन’ (EVD) इक्विपमेंट का भी इस्तेमाल कर रहे हैं. 

बाइडेन ‘बीस्ट’ कार से करेंगे सफर

अमेरिका के राष्ट्रपति बाइडेन की बीस्ट कार भारत पहुंच चुकी है. बाइडेन के काफिले में 50 कारें होने वाली हैं, जिसमें दो बीस्ट कार भी शामिल हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति बीस्ट कार के जरिए ही भारत में सफर करने वाले हैं. बख्तरबंद बीस्ट कार के ऊपर गोलियों का कोई असर नहीं होता है. इसे स्टील एल्युमीनियम सिरेमिक टाइटेनियम से बनाया गया है. न सिर्फ ये गाड़ी बुलेट प्रूफ है, बल्कि केमिकल बायोलॉजिकल और न्यूक्लियर खतरे से भी बचाने का काम करती है. 

10 टन वजन वाली इस गाड़ी में राष्ट्रपति के अलावा 6 और लोग बैठ सकते हैं. कार में 8 इंच की आर्मर प्लेट, पंप एक्शन गन और राकेट पावर गन भी लगाए गए हैं. बाइडेन का काफिला जब रवाना होगा, तो उसमें सीक्रेट सर्विस एजेंट्स, एफबीआई और सीआईए के अधिकारियों समेत 100 लोगों का स्टाफ होगा. इसके अलावा एंबुलेंस भी सफर के दौरान मौजूद रहेगी. सूत्रों ने बताया है कि बाइडेन की सुरक्षा के लिए 1000 से ज्यादा सिक्योरिटी ऑफिसर यूएस से भी आ रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: कितने अमीर हैं अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडेन, जानिए उनकी नेटवर्थ

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author