रमेश बिधूड़ी के बदले सुर से आया सियासी बवंडर, नोटिस जारी, विपक्ष को मिला एजेंडा, निशाने पर BJP

1 min read

[ad_1]

Ramesh Bidhuri Controversy: हाल ही में खत्म हुए संसद के विशेष सत्र के दौरान भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद रमेश बिधूड़ी चंद्रयान की सफलता पर लोकसभा में बोल रहे थे. इसी दौरान वह लोकतंत्र के मंदिर में बीएसपी सांसद दानिश अली पर आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करने लगे. इसके बाद बीजेपी सांसद की ‘टिप्पणी’ सियासी बवंडर में बदल गई.

विवादों में रहने वाले रमेश बिधूड़ी ने संसद में जो भी कुछ कहा उसे दोहराना मुमकिन नहीं है लेकिन उनके बयानों के सियासी गलियारे में भूचाल आ गया. भले ही बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी पर कारण बताओ नोटिस जारी हो गया हो लेकिन विपक्ष बीजेपी को आड़े हाथ लेता दिखाई दे रहा है. लोकसभा में असंसदीय टिप्पणी को हेट स्पीच करार देते हुए विपक्ष ने बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की है.

किसने क्या कहा?

अपने खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी पर बोलेते हुए दानिश अली ने कहा, “संसदीय लोकतंत्र में इस तरह के बर्ताव से भारत को विश्वगुरु बनाने का सपना पूरा नहीं होने वाला. इस तरह की नफरत की खेती बंद कीजिए. आपने मदर ऑफ डेमोक्रेसी कहे जाने वाले भारत की संसद में एक अल्पसंख्यक समुदाय के संसद सदस्य को ही अपमानित नहीं किया बल्कि पूरे देश को शर्मसार किया है.” इसके अलावा उन्होंने ये भी कहा कि अगर रमेश बिधूड़ी के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो वो सांसदी छोड़ देंगे.

इस मामले पर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा, “नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान.” इसके अलावा कांग्रेस ने कहा, “राहुल गांधी बीएसपी सांसद दानिश अली से मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंचे. कल भरी संसद में बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी ने दानिश अली को अपमानित किया था, उन्होंने बेहद अमर्यादित और असंसदीय शब्दों का इस्तेमाल किया और बीजेपी के दो पूर्व मंत्री भद्दे ढंग से हंसते रहे.”

महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले ने कहा, ”जिस तरह से बीजेपी सांसद ने संसद में विपक्षी सांसद के साथ दुर्व्यवहार किया, हम उसका कड़ा विरोध करते हैं. बीजेपी को अपनी मानसिकता बदलनी चाहिए. भारत का लोकतंत्र हमेशा मजबूत रहा है. अगर संसद में किसी की ऐसी मानसिकता है तो यह देश के लोकतंत्र के लिए बहुत खतरनाक है.”

वहीं, आम आदमी पार्टी ने कहा, “मोदी का दोमुंहा चेहरा उजागर. मणिपुर में महिलाओं के साथ हुए दुराचार पर सवाल पूछा तो संजय सिंह को सस्पेंड कर दिया. बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी ने गली के किसी लुच्चे की तरह भद्दी गाली दी तो उस पर कोई कार्रवाई नहीं की.” आप सांसद संजय सिंह ने कहा, “हम बार-बार ये बात कहते हैं कि बीजेपी लुच्चे लफंगों की पार्टी है. बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी द्वारा उपयोग की गई भाषा एक माफिया गुंडे की भाषा है. अगर ओम बिरला जी में नैतिकता है तो इस सांसद के ख़िलाफ़ कार्रवाई करें.”

मामले पर बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) अध्यक्ष मायावती ने कहा, “दिल्ली से भाजपा सांसद द्वारा बीएसपी सांसद श्री दानिश अली के खिलाफ सदन में आपत्तिजनक टिप्पणी को हालांकि स्पीकर ने रिकार्ड से हटाकर उन्हें चेतावनी भी दी है व वरिष्ठ मंत्री ने सदन में माफी मांगी, किन्तु पार्टी द्वारा उनके विरुद्ध अभी तक समुचित कार्रवाई नहीं करना दुखद/दुर्भाग्यपूर्ण.”

ये भी पढ़ें: Ramesh Bidhuri Remark: ‘ऐसे कैसे बनेगा भारत विश्व गुरु’, लोकसभा में रमेश बिधूड़ी के विवादित बयान पर बोले दानिश अली

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author