स्वामी प्रसाद मौर्य की जीभ काट के लाने वाले को 10 लाख का इनाम, कांग्रेस नेता का एलान

1 min read

[ad_1]

Swami Prasad Maurya Controversial Statement: समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य लगातार हिंदू धर्म, रामचरितमानस और ब्राह्मणों पर विवादित बयान दे रहे हैं. इस मामले में इस बार मुरादाबाद कांग्रेस के नेता गंगा राम शर्मा ने स्वामी प्रसाद मौर्य की जीभ काट के लाने वाले को 10 लाख रुपए का इनाम देने का एलान किया है. समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने हिन्दू धर्म पर विवादित टिप्पणी की थी, जिसके बाद राजनीति गर्म हो गई है. स्वामी प्रसाद ने ट्विटर पर लिखा था कि ब्राह्मणवाद की जड़ें गहरी हैं और सब तरह की विषमता का कारण भी यही है. 

इस बयान के बाद कांग्रेस नेता पंडित गंगा राम शर्मा ने एक पत्र जारी किया है, इस लेटर में उन्होंने स्वामी प्रसाद मौर्य की जीभ काटने वाले को इनाम देने की घोषणा की है. इनाम भी छोटा-मोटा नहीं बल्कि पूरे 10 लाख का है. कांग्रेस के मानवाधिकार विभाग के जिला अध्यक्ष पंडित गंगाराम शर्मा ने सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के हिंदू धर्म को अपमानित करने और धार्मिक पुस्तक रामचरितमानस की निंदा करने का आरोप लगाया है.

धर्म के लिए जान भी दे देंगे: गंगा राम शर्मा 

कांग्रेस नेता ने कहा है कि जरूरत पड़ी तो वह अपने धर्म के लिए जान भी दे देंगे. सपा नेता के द्वारा श्री रामचरितमानस को विवादित टिप्पणी बताने के बाद कांग्रेस नेता के द्वारा जीभ काटने वाले को इनाम देने का एलान किया है. रामचरितमानस पर समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के द्वारा बार-बार बयान देकर विवाद को बढ़ाने का आरोप लगाया गया है. स्वामी प्रसाद ने रामचरितमानस में दलित और महिलाओं की बात कही थी और आरोप लगाया था कि तुलसीदास ने ग्रंथ को अपनी खुशी के लिए लिखा था. मुरादाबाद जनपद में जिला कांग्रेस कमेटी के मानव अधिकार विभाग के अध्यक्ष गंगाराम शर्मा का लेटर तेजी से वायरल हो रहा है. 

विवादित बयान पर कांग्रेस ने झाड़ा पल्ला

कांग्रेस मानवाधिकार के जिला अध्यक्ष ने स्वामी प्रसाद मौर्य के हिंदू धर्म को लेकर दिए गए विवादित बयान पर एक विवादित लेटर जारी किया है. हालांकि गंगाराम के इस लेटर के बाद पार्टी के बाकी नेताओं ने अपना पल्ला झाड़ लिया है. कांग्रेस नेता पंडित गंगाराम ने कहा है कि स्वामी प्रसाद मौर्य न सिर्फ तुलसीदास बल्कि रामचरितमानस और हिंदू धर्म का अपमान कर रहे हैं. हिंदू धर्म के अपमान से आहत होकर सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य की बदजुबानी को रोकने के लिए कांग्रेस नेता ने यह लेटर जारी किया है. वहीं इस पूरे प्रकरण पर जिला अध्यक्ष असलम खुर्शीद का कहना है कि कांग्रेस नेता का बयान उनका निजी बयान है. पार्टी का इस बयान से कोई लेना-देना नहीं है. कांग्रेस नेता गंगाराम अपने बयान पर कायम है और उनका कहना है कि धर्म की रक्षा के लिए वह जो भी कुर्बानी देनी होगी देने को तैयार हैं.

इसे भी पढ़ें:
Imran Masood News: इमरान मसूद को BSP ने क्यों निकाला? सामने आई ये बड़ी वजह

[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author