प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान योजना –

गरीब कल्याण रोजगार योजना फॉर्म

गरीब कल्याण रोजगार अभियान मध्य प्रदेश

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान योजना क्या है?

जैसा आप लोग भी जानते है, कि कोरोना जैसे महमारी में  सभी देशो को भारी समस्या का सामना करना पड़ा है। इस समय महमारी कई देशो में फैला हुआ है। जिसकी वजह से लोगो को काफी  परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।  पूरा विश्व और हमारा भारत देश कोरोनावायरस जैसी महामारी के संकट से लड़ रहा है। कोरोनावायरस की वजह से बहुत से लोगो नौकरी जा चुकी है, लेकिन उन मजदूर और श्रमिकों को काफी ज्यादा क्षति हुई है, जो बाहर दूसरे राज्य में रहकर काम करते थे। उनके पास रोजगार का कोई साधन उपलब्ध नहीं है कोरोनावायरस लॉक डाउन की वजह से इन प्रवासी श्रमिकों के रोजगार के अवसर बंद हो चुके हैं। इस समस्याओं को देखते हुए देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा देश के प्रवासी मजदूरों की मदद करने तथा उनको रोजगार के अवसर  प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत की गई। इस  योजना की शुरुआत देश के 6 राज्यों में और 116 जिलों में मिशन मोड के तौर पर शुरू किया गया है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत यह अभियान 125 दिनों तक चलाया जाएगा। जिसमें 25 तरीके के काम इन प्रवासी मजदूरों को दिए जाएंगे । यदि आप इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान योजना का उद्देश्य  क्या है?

आपलोग भी जानते है, कि कोरोना जैसे महमारी में में न तो मजदूरों के पास रोजगार और न ही जीवन यापन करने के लिए उपयुक्त व्यवस्था। इन्ही सभी परेशानियों को देखते हुए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की शुरुआत की गयी है। इस योजना का मुख्य उदेश्य है देश के ग्रामीण क्षेत्रो के प्रवासी मजदूरों को रोजगार प्रदान करवाना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 20 जून 2020 को गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत की गई। इस अभियान में 6 राज्यों राजस्थान, मध्य प्रदेश, झारखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार और ओडिशा को शामिल किया जाएगा। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 जून को बिहार के खगड़िया जिले के एक गांव से शुरुआत की गई। इस योजना के अंतर्गत लगभग 50 हज़ार करोड़ रूपये का खर्च सरकार द्वारा किया जायेगा। योजना के अंतर्गत विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रो के विकास के मकसद से 25 विकास कार्य जैसे आंगनवाड़ी केंद्र , सामुदायिक केंद्र, कृषि, सड़क, आवास, बागवानी जल संरक्षण आदि पर जोर दिया जायेगा। जिस जगह पंचयात भवन नहीं है वहां पर पंचायत भवन बनाया जायेगा। कोरोनावायरस  की वजह से इन प्रवासी श्रमिकों के रोजगार के अवसर बंद हो चुके हैं और उनके पास रोजगार का कोई साधन उपलब्ध नहीं है। उन श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराना और उनकी आजीविका को सुधारना है।

गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2021 का लाभ क्या है?

  • इस योजना से प्रवासी श्रमिकों की आर्थिक में सुधार होगा।
  • राज्यों में बेरोजगारी कम होगी लोगो को रोजगार मिलेगा।
  • इस योजना का लाभ देश के प्रवासी मजदूरों को प्रदान किया जायेगा।
  • इस अभियान से आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत क्षेत्रीय उद्योगों को बढ़ावा दिया जा रहा है.
  • केंद्र सरकार द्वारा ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ का बजट 50 हजार करोड़ रुपये रखा गया है.
  • योजना के साथ सभी का समन्वय बना रहे, इसके लिए 12 मंत्रालय एक साथ मिलकर कार्य कर रहे हैं। इसमें ग्रामीण विकास, पंचायती राज, सड़क परिवहन भी शामिल है।
  • PM Garib Kalyan Yojana में किसी मजदूर को उसकी कार्यकुशलता के आधार पर ही काम दिया जायेगा।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान को वित् मंत्री वित् मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा शुरू करने की घोषणा की गयी थी।
  • इस योजना के अंतर्गत गरीब प्रवासी मजदूरो और श्रमिकों को रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेंगे।
  • देश के 6 राज्यों के116 जिलों में 125 दिनों तक गरीब कल्याण रोजगार अभियान चलेगा जायेगा।
  • लॉक डाउन की वजह से जो भी प्रवासी मजदुर अपने घर लौट आये है और उनके पास कोई रोजगार नहीं है। उन्हें इस अभियान के अंतर्गत रोजगार मुहैया करवाया जायेगा।

Garib Kalyan Rojgar Yojana MP

इसमें मध्यप्रदेश के 24 जिले शामिल किए गए हैं। गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत साल में 125 दिन तक रोजगार उपलब्ध कराने की योजना है।इस योजना के तहत गांव में ही इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़े 25 तरह के काम दिए जाएंगे और इसके जरिए प्रवासी मजदूरों को काम मिलेगा। अगर आप भी इस योजना के तहत काम पाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको गांव के सरपंच या मुखिया से मिलकर अपनी विशेषज्ञता बतानी होगी। यह स्कीम उन लोगों के लिए है जो प्रवासी है और उनके पास रोजगार नहीं है। मुखिया या सरपंच आपका नाम ब्लॉक ऑफिस भेजेंगे। हालांकि, सरकार ने यह योजना लाने से पहले ही उन लोगों का पहले ही आंकलन कर लिया गया है। रोजगार देने का काम राज्य सरकार के अधिकारी ही करेंगे। काम पाने वालों को अपने स्थानीय अधिकारियों के अलावा ब्लॉक और तहसील अधिकारियों से संपर्क करना होगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना महत्वपूर्ण बातें

 योजना का नाम प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना
 लॉन्च किया गया  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा
योजना की शुरुआत की गई प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
आरम्भ की तिथि 20 जून 2021
योजना बजट 50 हजार करोड़ रुपये
लाभार्थी देश के सभी प्रवासी मजदूर
 योजना का उद्देश्य देश के सभी प्रवासी मजदूरों को रोजगार के अवसर प्रदान करना
 कार्य अवधि 125 दिनों का निश्चित रोजगार

गरीब कल्याण रोजगार योजना के लिए दस्तावेज

  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट फोटो
  • राशन कार्ड
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार  योजना में शामिल किये गए राज्यों की लिस्ट

क्रमांक संख्या राज्यों का नाम जिले आकांक्षात्मक जिले
1 बिहार 32 12
2 उत्तर प्रदेश 31 5
3 मध्य प्रदेश 24 4
4 राजस्थान 22 2
5 ओडिशा 4 1
6 झारखण्ड 3 3
7 कुल जिले 116 27

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार  योजना में शामिल किये गए कार्य की लिस्ट

  • रेलवे
  • रुर्बन
  • पीएम कुसुम
  • भारत नेट
  • बागवानी
  • CAMPA का वृक्षारोपण
  • पीएम उर्जा गंगा प्रोजेक्ट
  • कुओं का निर्माण
  • वृक्षारोपण का काम
  • खेत तालाबों का निर्माण
  • पशु शेड का निर्माण
  • पोल्ट्री शेड का निर्माण
  • बकरी शेड का निर्माण
  • ग्राम पंचायत भवन का निर्माण
  • 14 वें एफसी फंड के तहत काम
  • राष्ट्रीय राजमार्ग कार्यों का निर्माण
  • जल संरक्षण और कटाई का काम
  • आंगनवाड़ी केंद्रों का निर्माण
  • ग्रामीण आवास कार्यों का निर्माण
  • ग्रामीण कनेक्टिविटी का काम
  • वर्मी-कम्पोस्ट संरचनाओं का निर्माण
  • लाइवलीहुड के लिए केवीके प्रशिक्षण
  • जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (DMFT) काम
  • सामुदायिक स्वच्छता केंद्र (CSC) का निर्माण
  • ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन कार्य

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार के अंतर्गत आने वाली योजनाओं की सूची

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अभियान के अंतर्गत सरकार द्वारा चलाई जाने वाली 25 योजनाओं को लोगों तक पहुंचाया जाएगा। यह काम 125 दिन के अंदर अंदर किया जाएगा।

क्रम संख्या मंत्रालय योजनाएं
1 कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग प्रशिक्षण/कौशल विकास
2 रक्षा मंत्रालय सीमावर्ती सड़कें
3 दूरसंचार विभाग भारत नेट
4 नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा विभाग पीएम कुसुम
5 पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा परियोजना
6 पर्यावरण और वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय सी ए ए एम पी ए निधियां
7 पेयजल और स्वच्छता विभाग स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण
8 रेलवे मंत्रालय रेलवे कार्य
9 खान मंत्रालय जिला खनिज निधि
10 सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय भारतमाला और अन्य योजनाएं
11 पंचायती राज मंत्रालय वित्त आयोग अनुदान
12 ग्रामीण विकास विभाग श्याम प्रसाद मुखर्जी रूब्रन मिशन
13 ग्रामीण विकास विभाग महात्मा गांधी नरेगा
14 ग्रामीण विकास विभाग प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना
15 ग्रामीण विकास विभाग प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण

इन 12 मंत्रालयों/विभागों का संयुक्त अभियान

  • ग्रामीण विकास मंत्रालय।
  • पंचायती राज मंत्रालय।
  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय।
  • खान मंत्रालय।
  • पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय।
  • पर्यावरण मंत्रालय।
  • रेलवे मंत्रालय।
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय।
  • नई और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय।
  • सीमा सड़क विभाग।
  • दूरसंचार विभाग।
  • कृषि मंत्रालय।

गरीब कल्याण रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक अपने जिले के क्षेत्रीय श्रमिक विभाग में जाना होगा।
  • अब आपको वहा से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान का आवेदन फॉर्म लेना होगा।
  • आपको आवेदन फॉर्म को भरना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म से अटैच करना होगा।
  • अब आपको आवेदन फॉर्म क्षेत्रीय श्रमिक विभाग में जमा करना होगा।
  • अब आपको एक रेफरेंस नंबर दिया जाएगा।
  • अब आपको इस रेफरेंस नंबर को संभाल कर रखना होगा। इस रेफरेंस नंबर के माध्यम से आप अपना एप्लीकेशन स्टेटस देख सकते हैं।

Q 1. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान क्या है ?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान एक निश्चित समय के लिए शुरू की गई योजना है जिसके तहत प्रवासी मजदूर और श्रमिकों को 125 दिनों का निश्चित रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। इस योजना के तहत देश के 6 राज्यों के 116 जिलों को शामिल किया गया है जिसके तहत लगभग 25000 श्रमिकों को 125 दिनों तक निश्चित रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा।

Q 2. गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत किन किन क्षेत्रों में काम किए जा सकेंगे ?

PM Garib Kalyan Yojana के तहत लगभग 25 प्रकार के काम किए जा सकेंगे, जिसमें सड़क निर्माण ,पंचायत भवन निर्माण ,पीएम आवास योजना के तहत घर का निर्माण ,ऑप्टिकल फाइबर बिछाना, जल संरक्षण के काम ,नाले, कुएं, नदी की खुदाई का काम इत्यादि को शामिल किया गया है।

Q 3. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान किन किन राज्यों में लागू किया गया है ?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना देशभर के 6 राज्यों में लागू किया गया है जिनमें शामिल है बिहार ,उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश ,राजस्थान, ओडिशा और झारखंड।

Q 4. पीएम गरीब कल्याण रोजगार योजना के मुख्य उद्देश्य क्या है ?

पीएम गरीब कल्याण रोजगार योजना के मुख्य उद्देश्य देशभर में वापस अपने घर लौटे प्रवासी मजदूरों को निश्चित रोजगार उपलब्ध कराना है।

Q 5. प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार योजना के तहत कितने मजदूरों को काम दिया जाएगा ?

पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत सरकार 25000 मजदूरों को 125 दिनों का अनिश्चित रोजगार उपलब्ध कराएगी।

Q 6. पीएम रोजगार योजना के तहत कितने दिनों तक काम चलेगा ?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत सरकार 125 दिनों तक निश्चित रोजगार प्रवासी श्रमिकों को उपलब्ध करवाएगी।

Q 7. रोजगार अभियान योजना के तहत कितने प्रकार के काम किए जा सकेंगे ?

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत सरकार 25 तरीके के काम करवा सकती है। इन कामों की सूची हमने आर्टिकल के ऊपर में दी है।

हम उम्मीद करते हैं की आपको गरीब कल्याण रोजगार योजना मध्य प्रदेश से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस आर्टिकल में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं।

Source link