IIP Data: अगस्त में शानदार रहा देश का औद्योगिक उत्पादन, आईआईपी बढ़कर 10.3 फीसदी पर आई

1 min read

[ad_1]

IIP Data: अगस्त 2023 में देश का औद्योगिक उत्पादन शानदार तेजी से बढ़ा है और ये डबल डिजिट में पहुंच गया है. अगस्त में इंडेक्स ऑफ इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (आईआईपी) दर बढ़कर 10.3 फीसदी पर आ गई है जो कि बढ़िया ग्रोथ कही जा सकती है. जुलाई में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक के हिसाब से वृद्धि दर 5.7 फीसदी पर रही थी जो कि इसका पांच महीने का उच्च स्तर था. राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) ने आज 12 अक्टूबर को ये आंकड़े जारी किए है. 

मैन्यूफैक्चरिंग और माइनिंग सेक्टर के बेहतर प्रदर्शन से बढ़ी आईआईपी दर

मैन्यूफैक्चरिंग और माइनिंग सेक्टर के बेहतर प्रदर्शन से देश में औद्योगिक उत्पादन अगस्त महीने में शानदार रहा है. औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) के संदर्भ में मापा जाने वाला औद्योगिक उत्पादन पिछले साल अगस्त में 0.7 फीसदी घटा था. आंकड़ों के मुताबिक चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-अगस्त के दौरान आईआईपी में सालाना आधार पर 6.1 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई. एक साल पहले इसी अवधि में इसमें 7.7 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई थी.

मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर का आउटपुट

अगस्त में मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर की आईआईपी दर 9.3 फीसदी पर रही है. इससे पिछले महीने यानी जुलाई 2023 में मैन्यूफैक्चरिंग सेक्टर की आईआईपी दर 4.6 फीसदी पर रही थी. 

माइनिंग सेक्टर की ग्रोथ

अगस्त 2023 में माइनिंग सेक्टर की ग्रोथ बढ़कर 12.3 फीसदी पर आई है जो कि इससे पिछले महीने यानी जुलाई 2023 में 10.7 फीसदी पर रही थी. 

इलेक्ट्रिसिटी सेक्टर की ग्रोथ

इलेक्ट्रिसिटी सेक्टर की ग्रोथ में भी अगस्त में अच्छा इजाफा देखा गया है और ये 15.3 फीसदी पर आ गई है. जुलाई 2023 में ये 8 फीसदी पर रही थी.

प्राइमरी गुड्स का आउटपुट

प्राइमरी गुड्स की आईआईपी दर बढ़कर 12.4 फीसदी पर रही है जो कि इससे पिछले महीने जुलाई में 7.6 फीसदी पर रही थी.

कैपिटल गुड्स की औद्योगिक विकास दर

कैपिटल गुड्स की आईआईपी दर बढ़कर 12.6 फीसदी पर रही है जो कि इससे पिछले महीने जुलाई में 4.6 फीसदी पर रही थी.

इंफ्रास्ट्रक्चर गुड्स की आईआईपी

इंफ्रास्ट्रक्चर गुड्स की औद्योगिक विकास दर अगस्त में 14.9 फीसदी पर रही है. महीने दर महीने आधार पर देखें तो ये जुलाई में 11.4 फीसदी पर रही थी. 

ये भी पढ़ें

Vivo: वीवो पर लगे गंभीर आरोप, कर्मचारियों ने छुपाई जानकारी और जम्मू-कश्मीर के संवेदनशील इलाकों में गए-ED



[ad_2]

Source link

You May Also Like

More From Author